लड़की को चुदाई का असली मज़ा दिया

लड़की को चुदाई का असली मज़ा दिया

xxx story

हाय दोस्तों मेरा नाम राहुल है | मेरी उम्र 20 साल है | मैं रहने वाला बिहार का हूँ | मैं आज एक बार फिर से सेक्सी कहानी पढने वालो की सेवा में अपनी एक कहानी को लेकर हाजिर हूँ | दोस्तों ये कहानी मेरे जीवन की सच्ची कहानी है | इस कहानी में मैंने एक लड़की को चुदाई का सुख दिया था | वो लड़की बहुत ही मादरचोद थी पर वो सबको लाइन देती भी नही थी | ये कहानी पिछले साल पहले की है जब मैं 12 में पढता था | उस टाइम मेरे बोर्ड के एग्जाम आने वाले थे तो मैं कोचिंग करने के लिए जाता था | मुझे कोचिंग करने के लिए सुबह 6 बजे ही घर से जाना पढता था | मैं कोचिंग करने जहाँ जाता था वो मेरे घर से काफी दूर है | इसलिए मैं साईकिल से जाता था | मैं जिस टाइम कोचिंग को जाता था | उसी टाइम कुछ लड़कियां भी कोचिंग के लिए जाती थी | मैं भी उसी टाइम ही जाता था तो मैं उन लड़कियों के साथ में ही जाता था | उनमे एक लड़की थी जो बहुत ही सुन्दर थी | दोस्तों मैं आप लोगो को उस लड़की के बारे में बता देता हूँ | उस लड़की का नाम नेहा है | वो दिखने में दूध से भी ज्यादा गोरी है | उसका सेक्सी फिगर है | वो जब साईकिल चला कर जाती थी तो उसकी कमर इधर उधर होती थी जो देखकर मेरा लंड खड़ा हो जाता था | मैं भी दिखने में अच्छा हूँ और मेरी बॉडी भी ठीक ठाक है क्यूंकि में जिम जाता हूँ इसलिए मेरी बॉडी कुछ अगल ही है |

जब मैं साथ में जाता तो वो लड़की मुझे देखकर हँसने लगती थी पर कुछ बोलती नही थी | बाकि सारी लड़कियां मुझसे बात करती हुई जाती थी | जब मैं कोचिंग से वापस आता तो साथ में ही आता था | मैं रोज ही साथ में जाता था | एक दिन की बात है जब मैं और अपनी कोचिंग से घर लौट रहा था | मुझे उस दिन देर हो गयी थी | तो मैंने सोचा की आज तो साब लड़कियां चली गयी होगी और मुझे आज अकेले ही जाना पड़ेगा | उस दिन जब मैं वापस आ रहा था तो मैंने देखा की नेहा नही गयी थी | जब मैं चल दिया तो वो भी मेरे साथ चल दी |

मैं – हाय |

नेहा – हाय |

मैं – नेहा तुम गयी नही थी क्या उन लोगो के साथ ?

नेहा – नही मुझे कुछ सामन लेना था तो मुझे देर हो गयी |

मैं – देखूं क्या सामन लिया है |

नेहा – नही दिखाना है तुमको |

मैं – ऐसा क्या लिया है जो मुझे नही दिखाना है ?

मैं समझ गया था की वो मेरे लिए ही रुकी थी | वो मुझे पसंद करती है इसलिए मेरा इंतजार कर रही थी |

फिर मैं अपने घर के पास पंहुचा तो वो मुझसे बाय करती हुई चली गयी | मैं जानने के लिए की ये मुझसे प्यार करती है या मुझे ऐसे ही देखकर हँसती है बेताब था | फिर मैं कुछ दिन तक कोचिंग नही गया | जब नेहा ने मुझे कोचिंग जाते नही देखा तो वो मेरे बारे में मेरे एक दोस्त से पूछा तो मेरे दोस्त ने मुझे बताया की यार नेहा तुझे पूछ रही थी |  तू कोचिंग क्यूँ नही आ रहा है | तब मुझे पता चल गया की वो मुझसे प्यार करती है पर कह नही रही है | फिर जब मैं कोचिंग जाने लगा तो वो मुझसे बोली की तुम कोचिंग क्यूँ नही आ रहे थे | मैं यार बीमार हो गया था इसलिए नही आ रहा था | वो कैसे क्या हुआ था तुमने दवाई ली थी | मैं यार तुम इतना क्यूँ परेशान हो रही हो मैं ठीक हूँ अब | एक दिन की बात है जब मैं उसके पास खड़ा था तो मैंने अपने हाथ को उसके बूब्स से टच कर दिया | वो ये देखकर घुस्सा होने की वजह मेरी तरफ देखकर हँसने लगी | तब मैं समझ गया की ये मुझसे प्यार करती है | फिर मैं उससे प्रपोज करने के बारे मे सोचने लगा की कैसे करूँ | उसके कुछ दिन के बाद की बात है जब वो मुझसे बोली की मैं भी तुमसे प्यार करती हूँ पर कह नही पा रही थी | इस तरह से उसने मुझे अपने प्यार के बारे में बता दिया | फिर एग्जाम भी काफी करीब अ गए थे तो मैं और वो दोनों ही पढाई करने लगे | मैं फिर भी टाइम निकाल कर उससे मिल लेता था | मैं जब उससे मिलने गया तो उस दिन वो मुझे रेड सूट में ज्यादा ही सेक्सी लग रही थी | मैं उसके पास जाकर बैठ गया और बाते करने लगा | मैं बात कर रहा था की वो मेरे हाथ को पकड कर मेरी होठो पर एक छोटी सी किस कर दी तो मैं उसके सर को पकड कर उसकी होठो पर किस करने लगा | मैं उसकी होठो को मुंह में रख कर चूसा रहा था | वो मेरी होठो को चूस रही थी | अब हम जब भी मिलते थे तो किस करते थे और मैं उसके मस्त चिकने बूब्स को दबाता था | वो गर्म हो जाती थी और मेरे लंड को पैंट के ऊपर से सहलाने लगती थी |

एक दिन की बात है जब मैं उसको अपने घर ले गया उस दिन मेरे घर पर कोई नही था न ही कोई आने वाला था क्यूंकि मेरी मम्मी और पापा मेरे घर से बाहर गए हुए थे  | फिर मैं नेहा के लिए चाय बना कर लाया और साथ में बैठ कर पीने लगा | कुछ ही देर में हमारी चाय भी ख़त्म हो गयी | मैं और नेहा बैठ कर बात करने लगे | वो मेरी पैंट के ऊपर से लंड को सहला रही थी | उसकी चूत में आग लगी हुई थी | वो मुझसे पहले भी बोल चुकी थी की वो चुदना चाहती है और चुदाई का पूरा मज़ा लेना चाहती है | तब मैंने उससे कहा था की जिस दिन मेरे घर पर कोई नही होगा | उस दिन मैं उसकी ये इच्छा भी पूरी कर दूंगा | फिर मैं उसकी जांघों को सहलाने लगा | अब वो बोली की यार मुझे ऐसे न तड़पाओ | मैं उसको अपने रूम में ले गया और अपने कपडे निकाल दिए मैं उसके सामने अंडरवियर में था | फिर मैंने उसके कपडे निकाल दिए | जिससे वो मेरे सामने ब्रा और पैंटी में आ गयी | मैं उसकी होठो पर अपनी होठो को रख कर चूसने लगा साथ में उसके बूब्स को ब्रा के ऊपर से दबा रहा था | वो मेरी होठो को चूसने के साथ में मेरे लंड को अपने हाथ से सहला रही थी | मैं उसकी होठो को ऐसे ही कुछ देर तक चूसने के बाद | मैंने उसकी ब्रा को खोल दिया फिर उसके एक दूध को मुंह में रख कर चूसने लगा | वो मेरे सर को पकड कर सहलाती हुई अपने बूब्स को चूसा रही थी |  मैं उसके एक दूध को मुंह में रख कर चूस रहा था और दुसरे दूध के निप्पल को ऊँगली से मसल रहा था | मैं उसके दोनों बूब्स को ऐसे ही एक एक करके चुसता रहा |

फिर मैं उसकी पैंटी को निकाल कर उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर उसकी चूत को चाटने लगा | मैं उसकी चूत को मुंह में रख कर चाट रहा था | वो मस्त होकर अपने बूब्स के निप्पल को ऊँगली से घुमती हुई आ आ आ आ… ह ह ह ह ह…. हु हु हु हु… हाँ हाँ हाँ… उई उई उई…. हाँ … की सिसकियाँ लेती हुई लेती हुई चूसा रही थी | मैं उसकी चूत में ऊँगली को जोर जोर से अन्दर बाहर कर रहा था | मैं उसकी चूत को ऐसे ही 5 मिनट तक चूसने के बाद में | मैंने अपनी अंडरवियर को निकाल दिया जिससे मेरा लंड बाहर आ गया | वो मेरे लंड को अपने हाथ में पकड कर घुटनों के भल बैठ कर लंड को मुंह में रख कर चूसने लगी | वो मेरे लंड को मुंह में रख कर अन्दर बाहर करती हुई चूसने लगी | वो मेरे लंड को ऐसे ही कुछ देर तक चूसती रही | मैं अपने लड़ को कुछ देर तक चुसाने के बाद मैंने उसकी टांगो को फैला कर उसकी चूत में अपने लंड को घुसा दिया | उसके मुंह से एक जोरदार चीख निकल गयी उईईई मैईईईइ मर गयी | मैं उसकी कमर को पकड कर अपनी और खीच लिया और उसकी चूत में जोर जोर के धक्के मारने लगा | वो सेक्सी आवाजे करती हुई चुद रही थी | मैं उसकी चूत में जोर जोर से अन्दर बाहर करते हुए चोद रहा था | उसके बाद मैंने उसकी चूत से लंड को निकाल कर बेड पर लेट गया | वो मेरे लंड पर बैठ कर ऊपर नीचे होती हुई चुदने लगी | वो ऐसे ही 5 मिनट तक चुदती रही | मैं उसकी कमर को पकड कर नीचे से जोर जोर से धक्के मार रहा था जिससे कमर में फच फच फच की आवाज घुजने लगी | वो ऐसे ही 18 -19 मिनट की मस्त चुदाई के बाद झड़ गयी | उसकी चूत का सारा पानी निकल गया  | उसके कुछ देर बाद मैं भी झड़ गया | फिर हम दोनों बेड पर लेट गए और एक दुसरे को किस करते हुए आराम करने लगे | फिर कुछ देर बाद मैंने अपने कपडे पहन लिए उसने अपने कपडे पहन लिए | फिर हम दोनों एक दुसरे से बात करते हुए घर से निकले और मैं उसको उसके घर तक छोड़ आया | दोस्तों ये थी मेरी कहानी मुझे उम्मीद है की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आएगी |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *