दोस्ती में चुदाई का मज़ा

दोस्ती में चुदाई का मज़ा

xxx story नमस्कार दोस्तों, कैसे हैं आप सब ? मैं आशा करती हूँ कि आप सभी अच्छे होंगे | मेरा नाम सौरभ है और मैं अहमदाबाद कर रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 19 साल है और मैं अभी कॉलेज की पढाई कर रहा हूँ | मैं दिखने सांवला हूँ और मेरी कदकाठी अच्छी है | मेरी हाईट पांच फुट दस इंच है और एथलिट बॉडी है | मैं चुदाई की कहानिया पढता हूँ और मुझे चुदाई की कहानिया पढ़ते हुए करीब 2 साल हो चुके हैं | मैं चुदाई की कहानिया पढ़ कर रोज मुठ मारता हूँ | मैंने भी सोचा कि आप लोगो के लिए कहानी लिखू तो आज मुझे मौका मिला है | आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी लिखने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी और मेरे जीवन की एक सच्ची घटना है | तो अब मैं आप लोगो को ज्यादा बोर नहीं करते हुए अपनी कहानी शुरू करता हूँ |

ये घटना तब की है जब मैं स्कूल नौवी कक्षा में पढता था | उस समय एक लड़की थी जिससे मैं प्यार करता था | उस लड़की का नाम बुशरा है और अब उसकी शादी हो चुकी है | बुशरा सीधी सादी लड़की थी उस समय और वो दिखने में बहुत गोरी है | पतली दुबली होने के साथ साथ उस फिगर सेक्सी है | उस समय ये भी नौवी में थी पर इसका सेक्शन अलग था | लेकिन हमारे यहाँ नौवी में एक सब्जेक्ट चूस करना होता था | या तो संस्कृत ले सकते थे या तो हिंदी | मैंने हिंदी लिया हुआ था उसने संस्कृत | तो जब हमारा हिंदी का पीरियड होता था तब हमारे यहाँ के बच्चे उनके साथ जा कर संस्कृत पढ़ते थे | फिर जब ड्राइंग और एस.यु.पी.डब्ल्यू का पीरियड होता तब हमारे साथ उनके सेक्शन के संस्कृत वाले आते | उस समय मैं प्यार व्यार के चक्कर में नहीं पड़ता था लेकिन जब मैंने उसे पहली बार देखा तो देखता ही रह गया | जब उसने अपनी जुल्फों को कान के पीछे रखा तब तो मेरे होश ही उड़ गए | फिर जब वो पेंसिल कलर अपने मुंह में डाल कर दांतों से दबा रही थी तब तो मैं अपना दिल ही दे बैठा उसे | अब मैं उसके प्यार में पागल हो गया और दिन रात, सोते जागते, खाते पीते बस उसके ही ख्याल में डूबा रहने लगा | मैं उससे प्यार करने लगा था एक दम सच्चा वाला प्यार | वो भले ही मुस्लिम है पर मैं उससे शादी कर लेता | नौवी के बाद हम दसवीं कक्षा में पंहुचे तब मैंने उसे पहली बार प्रोपोस किया तब उसने मुझे बड़े ही प्यार से कहा कि देखो सौरभ मैं इन सब चीजो में भरोसा नहीं करती |

मुझे अपना करियर बनाना है | मैं इन सब चक्करों में पड़ कर न ही तुम्हे दुखी करना चाहती हूँ और ना ही तुम्हे किसी भी धोखे में रखना चाहती हूँ | उसने इतने प्यार से मुझे उसने समझाया पर मैं तो मान गया लेकिन मेरा दिल नहीं मान रहा था | मेरा दिल भी उसे तब भी उतना ही प्यार करता था और जब उसने मुझे प्यार से समझाया तब तो और भी ज्यादा उसके लिए प्यार बढ़ गया | एक दिन मैंने उससे कहा कि यार माना कि तुम मुझे प्यार नहीं कर सकती लेकिन हम दोस्त तो बन सकते हैं न ? तो उसने कहा कि हाँ हम दोस्त बन सकते हैं लेकिन तुम अपनी प्यार वाली फीलिंग्स दोस्ती के बीच में नहीं लाओगे | ठीक हैं न ! मैंने भी हामी भर दी | अब हम दोनों की बात शुरू हो गई और हम थोड़ी बहुत ही बात करते थे | धीरे धीरे वो भी मुझे टाइम देने लगी और हमारी थोड़ी थोड़ी बात घंटो तक बात में बदल गई | मैं समझ गया कि अब ये लाइन में आने लगी है | ऐसे ही बात होते होते मैंने वैलेंटाइन डे के दिन उसे फिर प्रोपोस कर दिया तब उसने मुझे हाँ कर दिया | अब हम साथ में ज्यादा टाइम बिताने लगे थे और मैंने उसे अपने दोस्तों से भी मिलवाया | हम दोनों काफी घुल मिल गए थे प्यार में तो एक दिन मैंने उससे पूछा कि यार तुम्हे मेरी ऐसी कौन सी बात पसंद आई जिससे तुम प्रभावित हुई ? तो उसने बताया कि यार तुम्हारा वे ऑफ़ टॉकिंग बहुत अच्छा है और तुम काफी रेस्पेक्ट के साथ ट्रीट करते हो बस उसी उसी चीज़ में मैं फ़िदा हो गयी | उसके बाद जब हम दोनों के रिलेशन को एक साल हो गया तब मैंने उसे सेक्स के लिए कहा तो वो भी मान गई | वो सेक्स के लिए मान तो गई पर अब करना था रूम का जुगाड़ जो कि हो नहीं पा रहा था | हम दोनों कभी किसी कॉरिडोर में या कभी क्लास खाली रहती तो किस किया कर लेते और सहला लेते एक दुसरे को |

फिर एक दिन उसे घर वाले कही गए हुए तो उसने मुझे अपने घर बुलाया | जब मैं उसके घर पंहुचा तो उसने मुझसे कहा कि मुझे लगा कि तुम नहीं आओगे तो मैंने भी उसे अपनी बांहों में भर कहा कि पागल जान ने बुलाया है आता कैसे नहीं | फिर मैंने उसे किस करना शुरू कर दिया और वो भी मेरा साथ देते हुए मुझे किस करने लगी | मैं किस करने के साथ उसके दूध को भी दबाने लगा तो वो भी किस करते हुए मेरे लंड को जीन्स के ऊपर से सहलाने लगी | उसके बाद मैंने उसके कुर्ते और ब्रा को खोल कर उसे ऊपर से पूरा नंगा कर दिया और उसके दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा तो उसके मुंह से आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह की सिस्कारिया लेने लगी |

उसके दूध पीने में मुझे बहुत मजा आ रहा था | फिर उसने मेरे जीन्स को उतारी और मेरे अंडरवियर को उतार कर मुझे नीचे से नंगा कर दी और मैंने अपनी टी-शर्ट उतार कर पूरा नंगा हो गया | अब वो मेरे लंड को हिलाने लगी और फिर अपनी जीभ से चाटने लगी तो मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए सिस्कारिया लेने लगा | वो मेरे लंड को चाट चाट कर अच्छे से गीला करने लगी | फिर उसने मेरे लंड को अपने मुंह में डाल कर चूसने लगी तो मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए उसके मुंह की चुदाई करने लगा |
फिर मैंने उसके पायजामे को उतारा और फिर पेंटी भी उतार कर बेड पर लेटा दिया | फिर मैंने उसकी टाँगे चौड़ी कर के चूत को चाटने लगा तो वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए आंहे भरने लगी | मैंने उसकी चूत को चाटने के साथ साथ चूत के दाने को भी होंठ में दबा कर चूसने ला लगा तो वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए मेरे सिर को अपनी चूत पर दबाने लगी |

उसके बाद मैंने अपने लंड को उसकी चूत में डाल कर चोदने लगा तो वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए मचलने लगी | फिर मैंने अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दिया और जोर जोर से धक्के लगाते हुए चोदने लगा और साथ में दूध भी मसलने लगा तो वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए अपनी गांड उठा उठा कर साथ दे रही थी चुदाई में | करीब आधे घंटे की चुदाई के बाद मैंने अपना माल उसके मुंह के ऊपर निकाल दिया | उसके बाद हम बारहवी में पंहुचे तो छोटी सी ग़लतफहमी में हमारा ब्रेकअप हो गया | उसके बाद कुछ महीने पहले पता चला कि उसकी शादी हो गई |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *