ऑटो वाले अंकल की लड़की को चोदा डाला भाग 2

ऑटो वाले अंकल की लड़की को चोदा डाला भाग 2

hindi sex stories

हेल्लो दोस्तों कैसे हो आप सभी लोग ? आप सभी लोग ठीक ही होगे और अपनी लाइफ को मस्ती के साथ जी रहे होगे और चुदाई का मज़ा तो ले ही रहे होंगे | आज मैं फिर से आप लोगो के लिए अपनी दूसरी कहानी लेकर आया हूँ मैं अपनी ये कहानी शुरू करने से पहले अपने बारे में बता देता हूँ | दोस्तों मेरा नाम सोनू है | मेरी उम्र 22 साल है | मैं अभी पढाई करता हूँ और मैं रहने वाला कानपूर का हूँ | मेरी हाईट 5 फुट 4 इंच है | मेरे लंड का साइज़ 5 इंच लम्बा और मोटा 2 इंच है | मैं अब चुदाई करने में इतना एक्सपर्ट हो गया हूँ की किसी भी लड़की की आँखों से पानी निकाल दूँ |

दोस्तों जैसा की मैंने अपनी पहली कहानी मैं बता चूका हूँ की मैं एक कॉलेज में पढता था और मैं रोज कॉलेज जाता था तो मैंने वहां एक गर्लफ्रेंड बन गयी थी | तब मैं उसे एक दिन किस करने को कहा था तो वो मान गयी थी और उस दिन मैंने पहली बार किस किया था साथ में उसके बूब्स भी दबाये थे और फिर जब मैं अपने घर गया था तो उस दिन मुझे पड़ोस वाले अंकल की लड़की पढाई करके घर आई थी तो मैंने उसे भी पता लिया था और एक दिन सही टाइम देख कर उसे छत पर बोला कर चोद दिया था अब इसके आगे

उस रात मैंने रागनी को छत पर चुदाई की थी तो मैं झड गया था पर वो अभी भी चुदने लिए तैयार थी तो उसने मेरे लंड को चूस कर खड़ा किया और मैंने उसे उस रात में दो बार चोदा था और इस  तरह से उसकी चुदाई की थी की वो मेरी दीवानी हो गयी थी | फिर मैं रात को ही अपने घर चला आया और सो गया | जब मैं सुबह उठा तो नहा कर जब छत पर गया तो देखा की रागनी छत पर ही खाड़ी थी तब मैंने उसे फ़ोन किया और बोला की मज़ा आया था रात को तब वो सरमाती हुई बोली हाँ और फिर में नीचे आ गया और कॉलेज जाने के लिए तैयार होने लगा | फिर मैंने अपने कॉलेज पढने चला गया और कॉलेज मे जब मेरी गर्लफ्रेंड मिली तो बोली तुम 3 दिन से तुम्हारा फ़ोन भी नही लग रहा है और तुम 3 दिनों से कॉलेज भी नही आये हो कहा थे तुम | तब मैंने उसे बताया की यार घर पर थोडा काम था तो वहीँ बिजी था | फिर मैं और रूपा घुमने चले गए फिर हम दोनों लोग रेस्टोरेंट मैं गए और लंच किया फिर मैंने रूपा से कहाँ मैं घर जा रहा हूँ और मैं अपने घर चला आया | फिर घर जाके मैंने कपडे बदले और उस रात में भी मैंने रागनी की मस्त चुदाई की थी और उस रात मैंने उसकी इस तरह चुदाई की थी की वो चल भी नही पा रही थी |  उसके बाद मैंने उसको बहुत बार चोदा हूँ और वो मुझसे रोज ही चुदती थी | फिर मैंने सोचा की यार रूपा की चूत के भी मज़ा लेटा हूँ और फिर मैंने रूपा को चोदने के बारे में प्लान बनाया |

फिर जब मैं एक दिन कॉलेज गया था तो मैंने उसे किस किया और फिर बैठ कर बाते करने लगे | मैं उसके साथ बात कर रहा था और साथ में उसकी जांघों को हाथ से सहला रहा था | जब क्लास में कोई नही था तो मैं उसको पकड कर अपनी बाहों में भर लिया और उसके गले में किस करने लगा | वो मेरे लिपटी हुई थी और मैं उसके गले में किस कर रहा था | मैं उसको ऐसे ही क्लास में किस करता रहा और उसके दूध को दबा रहा था| उसके बूब्स मस्त बड़े और गोल थे | मैं उसको क्लास में ऐसे ही 5 -6 मिनट तक किस करता रहा और फिर वो मुझे कास के पकड़ कर लिपट गयी तो मैंने समझ गया की ये गर्म हो गयी है | फिर मैं उसको अपने साथ लेकर कॉलेज के होस्टल में चला गया और एक दोस्त के रूम की चाभी लेली थी फिर में अन्दर जाने के बाद उसको बंद कर लिया फिर मैं उसको अपनी बाँहों में भर लिया और उसके गले में किस करते हुए उसकी कमर को पकड कर किस करने लगा | वो मेरे सर के बोलो को सहला रही थी | मैं उसको ऐसे ही किस कर रहा था | फिर मैंने उसको किस करते हुए ही उसके कपड़े निकाल दिये तो वो मेरे सामने ब्रा और पेंटी में आ गयी थी | वो ब्रा और पेंटी में एकदम हीरोइन लग रही थी | फिर क्या था मैं उसके गले में किस करते हुए उसकी कमर को पकड कर उसकी कमर में किस करने लगा तो वो मछली कि तरह तडपने लगी और मुझे कास के पकड लिया | तब मैं उसके हर जगह किस कर रहा था मैं ऐसे ही उसके पुरे जिस्म में किस करने के बाद मैं उसकी होठो को चूसने लगा मैं उसकी होठो को चूसने के साथ में उसके बूब्स को ब्रा के ऊपर से दबा रहा था | वो भी मेरी होठो को चूसती हुई मेरे लंड को पेंट के ऊपर से सहला रही थी  | मैं उसकी होठो को ऐसे ही 3 -4 मिनट तक चूसने के बाद | मैंने उसके उसके बूब्स को दोनों हाथो से पकड कर दबाने लगा तो उसके मुंह से सेक्सी आवाजे निकलने लगी ऊ ऊ ऊ… आ आ आ..अ अ अ अ अ…. हु हु.. उह उह उह…. हु हु हु हु हु… की सिसिकियाँ लेने लगी | मैं उसके बूब्स को सहलाते हुए उसकी ब्रा भी खोल दी और उसकी ब्रा खोली तो उसके बूब्स देखकर मुझसे रहा नही गया तो मैंने उसके एक दूध को मुंह में रख कर चूसने लगा | वो भी मछली की तरह तडप रही थी साथ में ऊ ऊ ऊ ऊ.. अ अ अ अ.. आ आ.. हु हु हु.. अह अह अह अह… उह उह उह.. की सिसिकियाँ ले रही थी | मैं उसके एक दूध को मुंह में रख कर चूस रहा था और दुसरे वाले को हाथ से पकड कर मसल रहा था | वो मेरे सर को दबाती हुई  अ अ अ.. उई माँ मा माँ.. माँ उ उ उ उ… की सिसिकियाँ ले रही थी | फिर मैं उसके दूध के निप्पल को मुंह से पकड़ कर खीच खीच कर चूसने लगे मैं उसके बूब्स को ऐसे ही 6 – 8 मिनट तक चूसता रहा | फिर उसको बेड पर लेटा दिया और उसकी टांगो को खोल कर उसकी चूत में अपने मुंह को घुसा कर चाटने लगा तो वो ऊ ऊ ऊ ऊ.. आ आ आ..अ अ अ अ.. उई हु हु.. हु हु हु हु.. करती हुई बिस्तर को कस के पकड लिया और अपनी चूत को सहलाने लगी | मैं उसकी चूत में अपनी जीभ से चाटने के साथ में उसकी चूत में अपनी ऊँगली भी घुसा दी और अपनी ऊँगली को जोर जोर से अन्दर बाहर करने लगा | मैं उसकी चूत को ऐसे ही कुछ देर तक चाटने के बाद अपने कपडे निकाल दिए और अपने लंड को उसके हाथ में पकड़ा दिया तो वो मेरे लंड को हाथ में पकड कर हिलाती हुई अपने मुंह में रख कर चूसने लगी तो मैं उसके सर को पकड कर चुसाने लगा | वो मेरे लंड को मुंह में रख कर जोर जोर से अन्दर बाहर करती हुई चूस रही थी | वो मेरे लंड को ऐसे ही 5 मिनट तक चूसने के बाद | मैंने अपने लंड को उसकी चूत के ऊपर रख कर रगड़ने लगा तो उसके मुंह से मस्त सेक्सी आवाजे ऊ ऊ ऊ ऊ… आ आ आ आ आ आ…अ अ अ.. उई उई उह हु हु.. अ अ अ. हु हु हु हु हु…की आवाजे निकलने लगी | फिर मैं उसकी चूत के मुंह पर  अपने लंड को रख कर उसकी चूत में अपने लंड को एक ही धक्को के आधा घुसा कर अन्दर बाहर करने लगा | तो वो ऊ ऊ ऊ ऊ… आ आ आ आ….अ अ अ अ…. हु हु हु.. उह उह उह…. हु हु हु हु हु… करती हुई चुदने लगी | मैं उसकी चूत में अपने लंड को जोरदार धक्को के साथ अन्दर बाहर करने लगा | वो अपने बूब्स को दबाती हुई चुदने लगी | मैं उसकी कमर को पकड कर जोर जोर से अन्दर बाहर करते हुए चोद रहा था | वो अपनी चूत को सहलाती हुई लगी ऊ ऊ ऊ ऊ.. आ आ आ आ…अ अ अ अ.. उई उई उह हु हु.. उह उह उह.. हु हु हु हु हु.. की सिसिकियाँ ले रही थी | मैं उसकी चूत में जोर जोर से धक्के मार रहा था और फिर कुछ ही देर में धक्को की आवाजे रूम में घुजने लगी साथ में उसकी सिसिकियाँ भी आने लगी | मैं उसको ऐसे ही 17 मिनट की मस्त चुदाई के बाद झड़ गया |

ये थी मेरी कहानी | मुझे उम्मीद है की आप सभी लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी और कहानी को पढने में मज़ा भी आया होगा | कहानी पढने के लिए धन्यवाद |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *