क्लब में मिली लड़की की मिटाई अन्तर्वासना

क्लब में मिली लड़की की मिटाई अन्तर्वासना

Antarvasna

हेल्लो दोस्तों, सबसे पहले तो मैं आप सब हिंदी सेक्स कहानियां डॉट कॉम के पाठकों का स्वागत करता हूं | आशा है की आप सब अपनी निजी और सेक्स लाइफ दोनों में मस्त होंगे और जो मेरी तरह सिंगल हैं वो अपना हिला कर काम चला रहे होंगे | दोस्तों मेरा नाम विशेष है और मैं मुंबई के जुहू में रहता हूँ | मैं एक बिज़नसमैन हूँ और हिंदी सेक्स कहानियों का पाठक भी | अब मैं आप लोगों का ज्यादा टाइम न लेते हुए सीधे अपनी कहानी पर आता हूँ |

एक दिन की बात है | मैं घर पर पड़ा बोर हो रहा था | मैंने सोचा की क्यूँ न कहीं घूम आऊं | मैंने एक दो दोस्तों को कॉल किआ लेकिन सब बिजी थे | फिर मैंने अकेले जाने का सोचा | मैंने अपनी कार निकली और थोड़ी दूर पर जो क्लब है वहां चला गया | कार पार्क कर के मैं क्लब के अन्दर गया | वहां बहुत सारी लड़कियां और लड़के भी थे | सब अपनी मस्ती में झूम रहे थे | मैंने एक बियर जग आर्डर किया और बैठ कर बियर पीने लगा | मैं बियर पी ही रहा था की मेरी नज़र पास वाले सोफे पर बैठी एक लड़की पर पड़ी | वो लगभग 20 साल की होगी | उसने वन पीस पहन रखा था | वो पतली सी थी और काफी सेक्सी लग रही थी | मैंने ध्यान से देखा तो वो मेरी तरफ ही देख रही थी | थोड़ी देर तक ऐसे ही नज़रें मिलाने का सिलसिला चलता रहा | फिर उसने इशारों में मुझे डांस के लिए बुलाया |

मैं उसके पास गया और उसका हाथ पकड़ कर उसको उठाया | फिर हम दोनों साथ में डांस करने लगे | मैंने उसकी कमर में हाथ डाल दिया और उसकी कमर को पकड़ कर पार्टी डांस करने लगा | थोड़ी देर ऐसे ही डांस करने के बाद मैंने उससे बोला की कहीं बाहर चलें ? वो हाँ बोली | फिर मैंने उसको साथ लिया और कार में बिठा कर बाहर चल दिया | कार में ही उसने मेरा हाथ पकड़ लिया | मैंने उसका इशारा समझा और कार अपने फ्लैट की तरफ मोड़ ली | मैंने कार पार्क की और उसको लेकर लिफ्ट में गया | लिफ्ट में कैमरा नही है तो हम लोग लिफ्ट में ही शुरू हो गये | लिफ्ट में मैंने उसको कमर से पकड़ा और अपनी ओर खींच लिया | फिर वो अपने होठों को मेरे होठों के पास ले आई | हम दोनों किस करने लगे | हम किस कर ही रहे थे की लिफ्ट रुक गयी और हमारा फ्लोर आ गया |

अब हम दोनों मेरे फ्लैट में आ गये | मैंने जैसे ही दरवाजा बंद किया, तुरंत ही उसको पकड़ लिया और दीवार के सहारे खड़ा करके किस करने लगा | वो भी मेरा सर पकड़ के मुझे किस करने लगी | अब मैं उसकी गर्दन पर किस करने लगा | वो मजे से आह ऊह्ह करके सिसकियाँ लेने लगी | उसका ये करना मुझे और जोश दिला रहा था | मैं उसको गर्दन पर किस कर ही रहा था की मैंने अपना हाथ उसे बूब्स पर रख कर उसके बूब्स को कपड़ों के ऊपर से सहलाना शुरू कर दिया | उसने मना नही किया | मैं उसको बेडरूम में ले गया और उसकी बेड पर गिरा दिया | फिर मैंने अपनी शर्ट उतार दी और उसके ऊपर आ गया | मैंने उसको किस करते करते उसके कपडे निकाल दिए | अब वो सामने सिर्फ ब्रा और पैंटी में थी | उसके गोरे बदन पर काली ब्रा और पैंटी कहर ढा रही थी | मैं उसके बूब्स को ब्रा के सहला रहा था और फिर उसकी ब्रा के हुक खोल दिए |

उसके दूध बहुत बड़े नही थे लेकिन गुलाबी दूध और वो मस्त निप्पल.. क्या नजारा था | मैंने बिना देर किये उसके निप्पल चूसने शुरू कर दिए | वो मजे से आह हह हह ह हह ह्ह्ह ह्ह्ह हह ओऊ ह हह हह ह हह ह ह ह्ह्ह्ह ह्ह्ह ह आह हह हह हह हह ह ऊ ई इ ई ईईइ इ ईईइ करके सिसकियाँ ले रही थी | उसकी सिसकियाँ सुनकर मुझे और जोश आ रहा था | अब मैंने उसके दुसरे निप्पल को चुसना शुरू किया और पैंटी के ऊपर से उसकी चूत को सहलाने लगा | वो अब और जोर से आआआ आह्ह हह ह ह्ह्ह्ह ह हह हह ह हह ह ह ऊ ओ ऊ ओ ऊ ऊ  ह हह ह हह ह ह्ह्ह्ह हह ह ह इ इ इ ई ईईइ ई इ इ इ करने लगी |

फिर मैंने उसकी पैंटी भी निकल दी | वाह.. क्या मस्त नजारा था मेरे सामने | उसकी बिना झांटों वाली गुलाबी चूत क्या मस्त थी | मुझे तो देख के ही मजा आ गया | मैं वैसे चूत नही चाटता हूँ लेकिन ऐसी चूत सामने ही तो क्या सोचना | मैंने तुरंत उसकी चूत में जीभ लगा दी | जैसे ही मेरी जीभ उसकी चूत पर लगी, वो चिहुंक पड़ी | अब मैंने उसकी चूत को अपनी जीभ से चोदना शुरू कर दिया | उसने मेरा सर पकड़ लिया और जोर होर से आ आआअ हह ह ह हह हह ह्ह्ह ह्ह्ह ह ह ह्ह्ह्ह ह हह ऊऊ उ ऊऊ ऊऊऊ ऊऊ ऊ उ ऊ इ इ इ ई ईई ईईईइ ईईई ईओ ओ ऊऊऊऊ ओ ओऊ ऊऊऊ ओ ऊ ओ ओ ऊ आआह्ह ह हह ह ह ह्हहा आईई ईईई इ इ ई इ ई ईई इ इ ई इ इ इ इ करने लगी |

उसकी चूत का स्वाद आज तक मुझे याद है | थोड़ी देर तक उसकी चूत चाटने के बाद मैंने भी अपनी पैंट और अंडरवियर निकल दी | अब मेरा बड़ा सा लंड उसके सामने था | वो मेरा इशारा समझ गयी और उसने मेरे लंड को हाथ में पकड़ लिया और सहलाने लगी | मैं लेट गया और वो मेरे लंड को सहलाती हुई चाटने लगी | मुझे कितना मजा आ रहा था ये मैं बता भी नही सकता | वो बड़े मजे से मेरे लुंड को मुंह में ले रही थी और अन्दर बाहर कर रही थी | मुझे बहुत मजा आ रहा था | थोड़ी देर बाद मैंने उससे लेटने को कहा | वो लेट गयी |

अब मैंने उसकी टांगों को फैला कर उसकी चूत में अपने लंड को डालना शुरू किया | जैसे ही मेरे लंड का टोपा उसकी चूत में गया, वो दर्द से बिलख पड़ी | मैंने अपना लंड वहीँ रोक लिया | जब वो थोडा शांत हुई तो मैंने फिर से एक धक्का लगाया | इस बार लंड आधा घुस गया | उसकी चूत काफी टाइट थी | वो अभी भी रो रही थी | मैंने बिना देर किये एक और जोर लगाया और इस बार पूरा अन्दर कर दिया | वो दर्द से बिलख उठी | मैंने थोडा इंतजार करना सही समझा लेकिन उसकी चूत से अपना लंड निकाला नही | जब वो थोडा नार्मल हुई तो मैंने धीरे धीरे लंड को अन्दर बाहर करने लगा | वो अब जोर जोर से आह आआअह्ह्ह हह ह हह ह हह ह्ह्ह हह ऊऊ उ ऊ उ उ ऊ उ  ऊ ऊऊ उ ऊऊऊ ई  उईइ इ इ ई इ ईई इ ई इ इ इ ईईइ ईईईईईईइ आआअ आआह्ह ह हह हह ह्ह्ह ह ह्ह्ह हह ह ह्ह्ह्ह ह ह ह्ह्ह्हह हह ह ह्ह्ह हु उ ऊ उ ऊ उ ऊ ईई कर रही थी |

थोड़ी देर बाद उसको भी मजा आने लगा | अब वो मेरा साथ देने लगी और मजे से आःह ह्ह्ह ह हह ह हह ह हह ह इऊउ ऊऊ ईई ई इ ई फक मी हार्ड.. आह हह ह हह ह हह ह हह ह हह ह हह ह्ह्ह हह उ उ ऊऊ ऊ इ उ ई इ ईईइ ईई इ इऊ ऊऊऊ ऊऊ ओ ऊऊ ओ ओऊ इ ई इ ई इ इ ई फक मी करने लगी | मैंने स्पीड बढ़ा दी अब | फिर मैंने पोजीशन बदलने की सोची | मैंने उसको घोड़ी बनने को बोला और उसकी चूत में अपना लंड घुसेड दिया | मैं उसको चोदे जा रहा था और वो भी मजे से आया आया आह्ह हह ह हह ह हह ह हह ह ह ह ह्ह्ह्ह ह ह उ ऊऊउ उ ऊऊऊ उई ई इ इ ई इ इ इ ईई इ ई इ इ ई इ ईईइ इ इ करके चुदवा रही थी |

करीब बीस मिनट की चुदाई के बाद जब मेरा निकलने वाला हुआ तो मैंने उसको लिटा दिया और उसके पेट पर अपना सारा माल निकाल दिया | इस जबरदस्त चुदाई में हम दोनों को खूब मजा आया |

उस दिन के बाद हम लोग जब भी मन करता है, हम मिलते हैं और चुदाई करते हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *